मुख्य बातम्या:
पंचायत समिती कार्यालयावरीव तिरंग्याजवळच आत्मदहनाचा प्रयत्न# #जिल्ह्याच्या सर्वांगीण विकासासाठी कटिबध्द- पालकमंत्री बडोले# #वाशिम जिल्ह्यात ‘युवा माहिती दूत’ उपक्रमाचा शुभारंभ# #शेतकऱ्यांच्या समृद्धीसाठी विविध योजनांची प्रभावी अंमलबजावणी- पालकमंत्री संजय राठोड# #क्षत्रिय पोवार समाज संघ पुणेद्वारा व्यवसाय मार्गदर्शन कार्यक्रम १६ सितंबर को# #दुष्काळमुक्तीसाठी नागरिकांना जागृत करणार्या अधिकार्याचा सत्कार;वॉटर कप स्पर्धेत झरंडी प्रथम# #युवा भोयर-पवार मंच वार्षिक महोत्सव उत्साहात# #अंबाझरी टी पॉइंटजवळ भीषण अपघात, दुचाकीवरच्या तिघींचा मृत्यू# #विभागीय आयुक्त अनुपकुमार यांची बदली# #गोवारी समाजाला ST आरक्षण मिळणार; नागपूर खंडपीठाचा ऐतिहासिक निकाल

महंगाई, रोजगार की कमी और किसान आत्महत्यासे त्रस्तो को भाषण नहीं वादों की पूर्ति चाहिये-पटेल

गोंदिया। २८ मई को होने वाले गोंदिया भंडारा लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस राष्ट्रवादी कांग्रेस के संयुक्त उम्मीदवार मधुकर कुकड़े की जीत के आहवान को लेकर १४ मई सोमवार को पूर्व केन्द्रिय मंत्री एवं सांसद प्रफुल पटेल, पूर्व सांसद नाना पटोले, विधायक गोपालदास अग्रवाल, पूर्व आमदार सेवक वाघाये, रामरतनबापू राऊत, संहित अनेक दिग्गज क्षेत्रीय नेताओं की उपस्थिति में कांग्रेस राष्ट्रवादी कांग्रेस कार्यकर्ताओं की संयुक्त बैठक सड़क अर्जुनी, अर्जुनी मोरगांव, लाखांदूर, साकोली में संपन्न हुई। इस बैठक में बड़ी संख्या में कांग्रेस राष्ट्रवादी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने विचार व्यक्त करते हुए जहां भाजपा पर राजनीति और जनता से किये वायदों को मजाक बनाने का आरोप लगाया, वहीं भाजपा को इस उपचुनाव में करारा जवाब देकर राष्ट्रवादी कांग्रेस उम्मीदवार मधुकर कुकड़े के चुनाव चिन्ह घड़ी की बटन दबाकर भारी मतों से विजयी बनाने का आहवान किया।
सिर्फ गोंदिया भंडारा के नहीं बल्कि पूरे देश के पांच साल खराब कर दिये मोदी ने.. 
कांग्रेस राष्ट्रवादी कांग्रेस की संयुक्त बैठक में पूर्व केन्द्रिय मंत्री सांसद प्रफुल पटेल ने कार्यकर्ताओं से कड़ी मेहनत करके आम जनता की लड़ाई को ताकतवर बनाने का आहवान किया। सांसद पटेल ने भाजपा और पीएम नरेन्द्र मोदी पर आम जनता के साथ छलावा और फरेब करने का भी आरोप लगाया। श्री पटेल ने कहा कि भाजपा की सरकार बनने के बाद महंगाई कम नहीं हुई, पेट्रोल डीजल के रेट कम नहीं हुए। किसानों की आत्महत्या कम नहीं हुई, 2 करोड़ रोजगार का वादा बेकार चला गया। देश का व्यापार और उद्योग धंधे चौपट हो गए। नोटबंदी के कारण घरों में महिलाओं के पास जमा धन निकल गया, इतना सबकुछ हो गया और फिर भी नरेन्द्र मोदी और उनकी पूरी भाजपा की गंैग आम जनता को गुमराह करने में लगी है। प्रफुल पटेल ने कहा कि विकास और अच्छे दिनों के नाम पर देश के पांच साल पीएम मोदी ने खराब कर दिये हैं, अब वह समय आ गया है कि इस उपचुनाव में भाजपा को सबक सिखाकर हम असली विकास की बुलंदियों की ओर आगे बढऩे का फैसला लें।
भाजपा की पोल खुल रही है इसलिये भाजपा थोपा हुआ चुनाव बोल रही है – नाना पटोले
पूर्व सांसद नाना पटोले ने कांग्रेस राकां की सभा में कहा कि पद पर बने रहना किसे अच्छा नहीं लगता, मुझे भी लगा था लेकिन जब आम जनता के साथ की जाने वाली धोखाधड़ी मैंने देखी तो मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ। नाना ने कहा कि भाजपा इस चुनाव को थोपा हुआ चुनाव बोल रही है, भाजपा उसके हिसाब से सहीं बोल रही है क्योंकि वो नहीं चाहते थे कि चुनाव हो, क्योंकि मेरे इस्तीफा देने से होने वाले चुनाव में अब मैं भाजपा की पोल खोल रहा हूं और भाजपा के पास उसका कोई जवाब नहीं है। नाना पटोले ने कहा कि ये चुनाव गोंदिया भंडारा जिले की आवाज को बुलंद करने वाला चुनाव है और इस चुनाव की गूंज पुरे देश में हो रही है। नाना ने कहा कि इस चुनाव में मधुकर कुकड़े की जीत भाजपा को सबक सिखायेगी।
विकास की परिभाषा प्रफुल पटेल और हमने सिखाई – विधायक गोपालदास अग्रवाल
गोंदिया के विधायक गोपालदास अग्रवाल ने कहा कि गोंदिया भंडारा संसदीय क्षेत्र की जनता विकास को पहचानती है, गोंदिया में सांसद प्रफुल पटेल के साथ मिलकर हमने मेडिकल कॉलेज दिया, उड़ाण पुल दिया, तहसील कार्यालय की बिल्डिंग दी, पॉलिटेकनीक कॉलेज दिया, नर्सिंग कॉलेज दिया, गोसीखुर्द, धापेवाड़ा जैसी सिंचाई परियोजना दी। गांव गांव में सड़कें बनाई, तालाब बनाए, किसानों के खेतों में कूंए बनाए और यहां तक की बेरोजगारी को दूर करने के लिये रोजगार गारंटी योजना के माध्यम से मजदूरों का पलायन रोकने का काम किया तो वहीं सम्मानीय प्रफुल पटेल ने अदानी पावर प्लांट और भेल जैसा उपक्रम गोंदिया और भंडारा को दिया, और हमने विकास की परिभाषा क्या होती है ये बताई है। श्री अग्रवाल ने कहा कि मधुकर कुकड़े एक सज्जन और जनहित की लड़ाई लडऩे वाले नेता हैं जिनका नाम और उनका काम उनकी पहचान है, एैसे उम्मीदवार को चुनाव जीताकर हमें गोंदिया भंडारा को और आगे लेकर जाना है।
Share